करोड़पति बनना है तो मान लो खान सर की ये बातें

बहुत गुरूर था छत होने का एक मंजिल और बन गया तो अब छत फर्स बन गया

मेहनत का परिणाम बता देती है मेहनत की परिणाम कैसा मिलेगा वरना परिणाम तो बात ही देता है कि आपका मेहनत कैसा था

पहचान से मिला काम बहुत देर तक नहीं रहता लेकिन कम से मिली पहचान जीवन भर बनी रहती है

आपको अगर दिल लगाना ही है तो किताबों से लगाओ बेवफा भी निकलें गी तो मुकद्दर बना कर जाएंगे

अपनी मंजिल को भूलकर जिया तो क्या जिया दम तुझ में तो उसे पाकर दिखा लिख दे खून से अपनी कामयाबी की कहानी और बोल उस किस्मत से की दम है तो मिटा के दिखा

खाली पेट और खाली जब इंसान को जो सीखते हैं वह कोई कॉलेज में नहीं सिखाया जाता